क्या है कोरोना वायरस What is Corona Virus in Hindi

0
276
कोरोना से मरने वाले लोगो की डेड बॉडी को कैसे संभाले जानिए

What is Corona Virus in Hindi

COVID – 19 यह रोग नए खोजे गए Corona वायरस के कारण हुया है। और इसे महामारी घोषित कर दिया गया है। इस वायरस ने दुनिया भर के 140 देशों से भी अधिक देशों को प्रभावित किया है। इस महामारी के आगे दुनियाभर के देशों ने हाथ खड़े कर दिए है। इस वायरस से मरने वालों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। इस वायरस ने दुनियां के बड़े-बड़े देशों अमेरिका, इंग्लैंड, ईटली, ईरान और अब भारत में भी हाहाकार मचा रखा है।

कैसे तैयार हुआ है यह वायरस

अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि यह वायरस कैसे तैयार हुआ है! कोरोना से संक्रमित पहला मरीज 31 दिसंबर 2019 को सामने आया था! यह मरीज अलजायमर से पीड़ित था और मछली बाजार के पास रहता था! वुहान के जी निनटान अस्पताल के डॉक्टर वू वेंजुआन ने बताया था कि वह मरीज मछली बाजार के कुछ ही दुरी पर रहता था! वह बीमार था इसलिए बाहर नहीं गया था! शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि अस्पताल में दाखिल 41 मरीजों में से 27 मरीज ऐसे थे जो मछली बाजार के संपर्क में आये थे! वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन (W.H.O.) का मानना है कि ये संक्रमण किसी जहरीले जानवर से ही इंसानो में आया है! जिसमे से चमगादड़, सी-फ़ूड, और सांप की संभावना सबसे ज्यादा है! फिलहाल शोधकर्ताओं और डॉक्टर्स ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि इस वायरस की उत्पति कैसे हुई है!

इस लेख को भी जरुर पढ़ें: COVID-19 पालतू जानवरों से कोरोना वायरस फ़ैल सकता है

क्या बता रही है WHO की रिपोर्ट

W.H.O. की माने तो यह संक्रमण सी-फ़ूड, चमगादड़, और सांप जैसे जहरीले जानवरों से फैला है। लेकिन अभी तक डॉक्टर्स की माने तो इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि इसके फैलने की असली वजह क्या है। अभी तक सभी की नजरें इसी बात पे टिकी है कि इस महामारी से कैसे बचा जाए। अभी भी W.H.O. की मैन रिपोर्ट नहीं आई है कि यह वायरस इंसानो में कहाँ से आया।

क्यों आयी यह महामारी

अभी तक शोधकर्ता यह जानने में असर्मथ है कि यह महामारी कहा से आयी! लेकिन इस विषय में सभी ने अपनी-अपनी धारणा दी है! कुछ शोधकर्ताओं का कहना है कि यह चाइना द्धारा biological हथियार बनाने के कारण यह वायरस इंसानो में फैला है! वहीं कुछ धार्मिक शोधकर्ताओं का कहना है कि यह एक प्राकतिक आपदा है जो प्रकति के साथ छेड़ छाड के कारण हुआ है! वहीं भारत बर्ष के कई स्थानों में हवनों का आयोजन किया जा रहा है ताकि इस समस्या से देश और दुनिया को बचाया जा सके!

इस लेख को भी जरुर पढ़ें: COVID-19 से स्पेन में क्यों बड़ रहा है मौतों का सिलसिला

Corona के लक्षण क्या है कैसे पता करें कि यह कोरोना है

कोरोना से संक्रमित मरीज भी बिल्कुल स्वस्थ रहता है उसे भी इस बात का ज्ञान नहीं होता कि वो इस वायरस से संक्रमित हो चुका है। कोरोना को पहचानने के कुछ लक्षण इस प्रकार से है: जो व्यक्ति कोरोना से संक्रमित है उसमें समान्य रूप से बुखार, सूखी खांसी, और थकान के लक्षण पाए जाते है। असामान्य रूप से सिरदर्द, बंद नाक, गले में खराश, थूक के साथ खांसी, साँसों में कमी, मासपेशियों में दर्द, ठंड लगना, उल्टी, दस्त लगना शामिल है। और जब यह बीमारी गंभीर रूप पकड़ लेती है तब तेज बुखार, खांसी के साथ खून आना, श्वेत रक्त कणिकाओं में कमी और किडनी खराब हो जाना शामिल हैं।

Corona से बचने के क्या है उपाय

कोरोना एक ऐसी महामारी है जो धीरे-धीरे पूरे शरीर पर असर करता है। इससे बचने के लिए social distance बनाये रखना बहुत जरूरी है। किसी भी भीड़ वाली जगह पर जाने से बचे। जब भी कहीं बाहर से आये हाथो को धोएं बिना किसी वस्तु को न छुए। अपने हाथों को हर 10 mint बाद साबुन से अच्छी तरह धोए। अपने नाक कान और मुंह को न छुए। और जितना ज्यादा हो सके अपने घर पर रहें। अगर कोई बहुत ही जरूरी काम है तभी घर से बाहर निकले क्योंकि सावधानी में ही बचाव है।

क्या Corona का इलाज मौजूद है

यह वायरस एक ऐसा वायरस है जिसने पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया है। कुछ संक्रमित लोगो को बचाया भी जा चुका है। वही यह अफवाह फैल रही है कि इस वायरस का ईलाज निकल गया है लेकिन यह सिर्फ अफवाह है। इस वायरस का अभी तक कोई ईलाज नही निकला है। बड़े-बड़े Health Department ने अपने हाथ खड़े कर दिए है पर इस वायरस का कोई भी इलाज नही निकला है। और सभी इसका इलाज ढूंढ रहे हैं।

सभी देश Corona से बचने के लिए क्या कर रहे हैं

कोरोना ने पूरे विश्व में अपने पैर पसा रखे है। और सभी देश इससे लड़ने के लिए एकजुट हुए है। आज सभी देशों की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से गिर चुकी है! और सभी देशों में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है। बड़े-बड़े देशों के Health डिपार्टमेंट ने हाथ खड़े कर दिए है। अगर सम्पूर्ण लॉकडाउन को ऐसे ही कायम रखा जाए तो इस वायरस को खत्म किया जा सकता है।

हर 100 साल बाद क्यों लौट आती है महामारी

दुनिया भर में पिछले 400 साल से महामारी फैली हुई है और यह महामारी हर शतक के 20वे साल में आती है। वैज्ञानिक भी इसका कोई पता नही लगा पाए है कि यह क्यों हो  रहा है। और हर कोई यह जानना चाहता है कि यह महामारी शतक के 20वे साल ही क्यों आती है। सन 1720 में प्लेग फैला था। इस महामारी को ग्रेट ऑफ मार्सिले कहा जाता है। मार्सिले फ्रांस का एक बड़ा शहर है जहाँ से इस महामारी की शुरुआत हुई थी। जिसने दुनिया के बहुत देशों को प्रभावित किया था। प्लेग के कारण एक लाख लोगों की मौत हुई थी। इसके ठीक 100 साल के बाद 1820 में एशियाई देशों में कॉलेरा ने महामारी का रूप लिया इस महामारी में जापान, भारत, बैंकोंक, मनिला, जावा, चीन, सीरिया आदि देशों को प्रभावित किया। कॉलेरा की वजह से सिर्फ जावा में ही एक लाख लोगों की मौत हुई थी। और सबसे ज्यादा मौत थाईलैंड, इंडोनेशिया, और फिलीपींस में हुई थी। इसके बाद सन 1920 में स्पेनिश फ्लू फैला वैसे यह 1918 में ही फैला हुआ था। लेकिन इसका असर 1920 को देखने को मिला इसकी वजह से पूरी दुनियां में 5 करोड़ लोग मारे गए थे। और आज 2020 में कोरोना वायरस इसकी शुरुआत चाइना से हुई है। इससे अभी तक 140 से ज्यादा देश प्रभावित हुए है। और इसके मरीजों की गिनती लगातार बढ़ रही है। अभी तक कोरोना से 7,21,962 लोग संक्रमित हो चुके है और 33,965 लोगो की जान जा चुकी है।

Corona के बारे में फैल रही अफवाहों से कैसे रहे सावधान

जैसे-जैसे कोरोना वायरस फैल रहा है वैसे ही इसके बारे अफवाहें भी बहुत तेजी से फैल रही है। कुछ अफवाहों में यह बताया जा रहा है कि ये वायरस हवा में फैल रहा है। तो कहीं कहा जा रहा है कि यह वायरस पांच दिन गले मे रहता है ऐसा कुछ नही है। तो कुछ अफवाहों में कहा जा रहा है कि कोरोना वायरस का इलाज निकल गया है ऐसा कुछ भी नही है। आपकी सुरक्षा अपने हाथों में है इसलिए घरों में रहिये और इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए सरकार का सहयोग दें।

SHARE
Previous articleदेश के लिए Lockdown कितना जरूरी है !
Next articleचामुंडा देवी मंदिर के बारे में जाने जो शक्तिपीठों में एक है
Moniveer: Moniveer PuraBharat.com में आपका तह दिल से स्वागत करता हु और PuraBharat.com पढ़ने वालो को दिल से धन्यावाद करता हूँ मेरा यह ब्लॉग बनाने का मकसद सिर्फ आप लोगों तक कुछ जरुरी जानकारी देना है! मेहनत हमेशा खामोशी से करो और जीत ऐसी करो कि तुम्हारे फैसले दुनिया को बदल दे न कि दुनिया के फैसले तुम्हें बदल सके। जब तक दिल मे हार का डर रखोगे जीतना मुशिकल हो जाएगा हार हो या जीत मैदान कभी मत छोड़ो क्योंकि हार भी बहुत जरूरी है जब तक हारोगे नही जीत का आनंद नहीं उठा सकोगे जीत भी उसी की होती है जो हारना जानता है क्योंकि जीत का असली आनंद हारा हुआ व्यक्ति ही उठा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here